कब हुआ था शिवलिंग का पहली बार पूजन, यहां जानें

बुधवार दिनांक 05.12.18 को मार्गशीर्ष कृष्ण चतुर्दशी पर शिवरात्रि मनाई जाएगी। चतुर्दशी के स्वामी स्वयं परमेश्वर शिव हैं। साल में 12 मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है लेकिन मार्गशीर्ष शिवरात्रि पर्व महादेव को अति प्रिय है। शिवरात्रि पर्व वैदिक काल से ही मनाया जा रहा है। इस व्रत व पर्व का पालन देवी लक्ष्मी, सरस्वती, गायत्री, सीता, पार्वती व रति ने विधिवत किया था। इसी दिन प्रदोष काल में शंकर-पार्वती जी का विवाह हुआ था। महाशिवरात्रि तिथि के प्रदोषकाल में ज्योतिर्लिंगों का प्रादुर्भाव हुआ था व सर्वप्रथम ब्रह्मा व विष्णु ने महाशिवरात्रि पर शिवलिंग पूजन किया था। महाशिवरात्रि को शिव उत्पत्ति के रूप में मनाया जाता है। इस दिन मध्य रात्रि में शिव पूजन को निशिता कहते हैं। मार्गशीर्ष शिवरात्रि व्रत में संपूर्ण शिव परिवार का पूजन किया जाता है। इस पूजन, व्रत व उपाय से सभी शत्रुओं का अंत होता हैं, असाध्य रोगों का शमन होता है, बौद्धिक विकार दूर होते हैं।

स्पेशल पूजन विधि: घर की पश्चिम दिशा में हरा कपड़ा बिछाएं तथा उस पर कांसे के कलश में जल, दूध, मूंग, सुपारी, सिक्के डालकर कलश के मुख पर अशोक के पत्तों पर नारियल रखकर रुद्र कलश स्थापित करें, साथ ही पारद शिवलिंग रखें व शिव परिवार का चित्र रखकर विधिवत षोडशोपचार पूजन करें। पारद शिवलिंग का जल से अभिषेक करें उसके बाद दूध, घी, शहद व पंचामृत चढ़ाएं। कांसे के दीए में गाय के घी का दीपक करें, सुगंधित धूप करें, सफ़ेद फूल चढ़ाएं, चंदन से तिलक करें। मौली, अक्षत, भस्म, दूर्वा, जनेऊ, बिल्वपत्र अक्षत, चढ़ाएं तथा मिश्री व पिस्ता का भोग लगाकर रुद्राक्ष की माला से इस विशेष मंत्र से का 1 माला जाप करें। पूजन के बाद गुड़ किसी गरीब को दान दें।

मध्यान कालीन पूजन मुहूर्त: सुबह 11:00 से दिन 12:00 तक।

निशिता कालीन पूजन मुहूर्त: रात 23:44 से रात 00:39 तक।

स्पेशल मंत्र: ॐ अघोरह्र्द्याय नम:॥

स्पेशल टोटके: 
शत्रुओं के अंत के लिए: भोजपत्र पर गोरोचन से शत्रुओं का नाम लिखकर शिवलिंग के सामने कपूर से जला दें।

असाध्य रोगों के शमन के लिए: शिवलिंग पर चढ़ी लौकी सिर से 6 बार वारकर काली गाय को खिलाएं।

बौद्धिक विकार से मुक्ति पाने के लिए: शिवलिंग पर गोरोचन चढ़ाकर मस्तक पर तिलक करें।

गुडलक के लिए: रुद्र कलश की कपूर जलाकर आरती करें।

विवाद टालने के लिए: शिवालय में नारियल तेल का दीपक करें।

नुकसान से बचने के लिए: शिवलिंग पर मनी प्लांट के पत्तों की माला चढ़ाएं।

प्रोफेशनल सक्सेस के लिए: 5 रु के सिक्का शिवलिंग पर चढ़ाकर गल्ले में रखें।

एजुकेशन में सक्सेस के लिए: शिवलिंग पर चढ़े हरे पेन से नोटबुक में “ब्रीं” लिखें।

पारिवारिक खुशहाली के लिए: शिव परिवार पर चढ़ी 7 हरी कांच की चूडियां किसी कन्या को भेंट करें।

लव लाइफ में सक्सेस के लिए: शिव परिवार पर चढ़ी मिश्री किसी बच्चे को भेंट करें।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

चंद्रग्रहण के बाद ये काम करना न भूलें

आज 2019 का पहला चंद्रग्रहण लग रहा है। चंद्र ग्रहण में चंद्रमा आम दिनों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Makrai Samachar

निर्वाचन सामान्य प्रेक्षक के द्वारा मतगणना स्थल का निरीक्षण      |     भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि     |     नकली कस्टमर केयर अधिकारी की 2 मिनिट में लू उतार दी गॉव के युवक ने,आप भी रहे सावधान     |     उपज का भुगतान व्यापारी द्वारा 5 दिवस में न करने पर मण्डी कार्यालय में शिकायत दर्ज करें     |     EVM & VVPAT पर विपक्ष की बैठक खत्म, चुनाव आयोग पहुंचे नेता     |     लोकसभा चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने कीं 158 चुनावी सभाएं     |     अरुणाचल प्रदेश में आतंकी हमला, विधायक समेत 11 लोगों की मौत     |     EVM में छेड़छाड़ की रिपोर्ट पर प्रणब मुखर्जी ने जताई चिंता     |     ऑफ शाॅल्डर गाउन में सोनम कपूर का जलवा, तस्वीरों में साफ दिखे क्लीवेज     |     COUPLE GOALS: पति सैफ की मूछों को ताओ देती दिखीं करीना, देखें बेबो का जबरदस्त अंदाज     |    

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.