शोध में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, भारत की जनसंख्या वृद्धि दर को अांका गया बढ़ा चढ़ाकर

लंदन। भारत की जनसंख्या वृद्धि दर उतनी भी ज्यादा नहीं है, जितनी की मौजूदा मॉडलों से आंकी जाती है। वैज्ञानिकों का कहना है कि लोगों के बीच विविधता और शिक्षा के स्तरों में अंतर से अधिक सटीक आंकड़े मिलने में मदद मिल सकती है।

ऑस्ट्रिया में इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फोर एप्लाइड सिस्ट्म्स एनालिसिस के विश्व जनसंख्या कार्यक्रम के निदेशक वॉल्फगांग लुट्ज ने कहा कि भारत बहुत विविध है। चूंकि समग्र यूरोप से अलग यह एक राष्ट्र है तो इसके साथ समान इकाई नहीं मानना चाहिए।

ऐसा अनुमान है कि वर्ष 2025 तक भारत उच्च जनन दर और युवा आबादी के कारण चीन को पीछे छोड़कर दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बन जाएगा। बहरहाल, भारत की आबादी का परिदृश्य इस पर निर्भर करता है कि आबादी का आकलन करने वाले मॉडलों में उसकी जनसंख्या के भीतर क्षेत्रों के बीच भिन्नता या विविधता को कैसे शामिल किया जाता है।

About SMC

Check Also

PICS: ऑफ शाॅल्डर टाॅप में नेहा ने दिखाए हुस्न के जलवे

मुंबई: सिंगर नेहा कक्कर अक्सर अपनी तस्वीरों और वीडियोज की वजह से सुर्खियों में रहती …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हरदा: जनसुनवाई में एडीएम के विवादित बोल , क्या घर घर गॉव गॉव खुलवा दु खरीदीं केंद्र, किसानों ने लगाया आरोप     |     आमिर खान की ‘रुबरू रोशनी’ की स्पेशल स्क्रीनिंग में शामिल हुए बॉलीवुड के ये सितारे     |     भोपाल से चुनाव लड़ने की खबर पर करीना ने दिया जवाब, कहा- इतनी फुर्सत नहीं…     |     PICS: ऑफ शाॅल्डर टाॅप में नेहा ने दिखाए हुस्न के जलवे     |     कोहली को खली हार्दिक की कमी, बोले- अब विशेषज्ञ तेज गेंदबाज को देना पड़ेगा चांस     |     11 साल बाद भज्जी को हुआ पछतावा, बोले- नहीं मारना चाहिए था श्रीसंत को थप्पड़     |     स्टीपास और कोलिंस ऑस्ट्रेलियन ओपन में विजेता बनने से 2 कदम दूर     |     अफगान सैन्य अड्डे पर तालिबान हमले में 100 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों की मौत     |     इंडोनेशिया में 6.0 तीव्रता का भूकंप के झटके     |     पाकिस्तान की कोयला खदान में धमाका, 3 की मौत     |