Wednesday , November 13 2019

ऋषभ पंत डीआरएस में हो रहे नाकाम, सवाल पूछा तो रोहित शर्मा ने कही ये बात

नई दिल्ली : जब सटीक रिव्यू की बात आती है तो भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का नाम एकदम से जेहन में आ जाता, लेकिन सीमित ओवरों के प्रारूप में उनके उत्तराधिकारी ऋषभ पंत बांग्लादेश के खिलाफ रविवार को यहां पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में इस मोर्चे पर पूरी तरह से नाकाम रहे जिसके लिये कप्तान रोहित शर्मा ने उनका बचाव किया। वह मैच का दसवां ओवर था, जबकि डीआरएस को लेकर फैसले भारत के खिलाफ गये और आखिर में यह गलती टीम को महंगी पड़ी और उसे पहली बार बांग्लादेश से हार का सामना करना पड़ा।

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के इस ओवर की तीसरी गेंद पर मुशफिकुर रहीम पगबाधा आउट थे, लेकिन भारत ने रिव्यू नहीं लिया। गेंदबाज या विकेटकीपर पंत ने इसके लिये कप्तान को कोई सलाह भी नहीं दी। रहीम तब छह रन पर खेल रहे थे और बाद में वह 60 रन बनाकर नाबाद रहे। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर सौम्या सरकार के खिलाफ पंत ने विकेट के पीछे कैच की अपील की जिसे अंपायर ने ठुकरा दिया। पंत ने रोहित पर डीआरएस के लिये दबाव बनाया लेकिन रिव्यू से स्पष्ट हो गया कि गेंद बल्ले से लगकर नहीं गई थी। दर्शकों ने भी धोनी-धोनी की गूंज से पंत को गलती का अहसास कराया।

रोहित ने बाद में स्वीकार किया कि इस तरह के रिव्यू में कप्तान पूरी तरह से गेंदबाज और विकेटकीपर पर निर्भर होता है, लेकिन उन्होंने भरोसा जताया कि पंत अभी युवा है और वह समय के साथ बेहतर फैसले करना सीख जाएगा। उन्होंने कहा, जब आप फैसला करने की सही स्थिति में नहीं होते हैं तो आपको फैसला लेने के लिये अपने गेंदबाज और विकेटकीपर पर भरोसा करना होता है। ऋषभ अभी युवा है और उसने बमुश्किल 10 से 12 टी20 (असल में 21) मैच खेले हैं, इसलिए उसे इस तरह की चीजों को समझने के लिये समय देने की जरूरत है।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

India vs bangladesh : रोहित शर्मा ने टीम इंडिया की जीत का श्रेय जानिए किसे दिया

नागपुर : बंगलादेश को तीसरे और आखिरी ट्वंटी-20 मुकाबले में 30 रन से हराकर सीरीज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Rahul Gandhi के “चौकीदार चोर है” के बयान पर भी कुछ देर में आने वाला है SC का फैसला     |     भाजपा ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने के लिए शिवसेना को जिम्मेदार ठहराया     |     खट्टर सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार कल, नए मंत्री लेंगे शपथ     |     विधायक लोधी की सदस्यता बहाल करने के लिए BJP प्रतिनिधि मंडल राज्यपाल से करेगा मुलाकात     |     कमलनाथ मजबूत CM बनकर दिखाएं, मजबूर नहीं: लक्ष्मण सिंह     |     अमेरिकी जनता के सामने सुनवाई, पता चलेगा कितना सच और कितना झूठ बोलते हैं ट्रंप     |     दिल्ली: हाइड्रोजन आधारित ईंधन तकनीक से दूर होगा वायु प्रदूषण, SC ने केंद्र से उपाय तलाशने को कहा     |     राफेल, राहुल और सबरीमला मामलों पर कल कोर्ट में ‘सुप्रीम’ फैसलों का दिन     |     CJI का दफ्तर RTI के दायरे में आएगा या नहीं, सुप्रीम कोर्ट का फैसला कुछ देर में     |     अयोध्या पर फैसले के बाद साइबर पैट्रोलिंग ने सोशल मीडिया को जकड़ा, 99 अफवाह फैलाने वाले गिरफ्तार     |    

Makrai Samachar

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.