आंगनवाड़ी केन्द्रों में किचन गार्डन अवश्य बनाए – कलेक्टर

पोषण माह अंतर्गत जिला स्तरीय वृहद पोषण सभा हुई आयोजित

हरदा /कलेक्टर श्री एस. विश्वनाथन ने कहा कि जिले के हर आँगनवाड़ी केन्द्रों में किचन गार्डन अवश्य बनाए। इससे बच्चों को अच्छी शिक्षा के साथ-साथ पोषण हेतु पोषक तत्व प्राप्त हो सकेंगे। कलेक्टर श्री विश्वनाथन आज शासकीय पाॅलिटेक्निक महाविद्यालय हरदा में सही पोषण देश रोशन की थीम पर आयोजित जिला स्तरीय वृहद पोषण सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि हमारा जिला काफी सम्पन्न है, किन्तु फिर भी सोशलिटी के मामले में हम पीछे है। कई जगह पर कुपोषण है, होम डिलेवरी हो रहे है। इतना प्रयास होने के बाद भी हमारा संदेश नहीं पहुँच पा रहा है। हम चाहते है कि हमारा संदेश निचले स्तर पर कार्य कर रहे श्रमिकों, आदिवासी लोगों तक पहुँचे। हमें इसके लिये प्रयास करना होगा। कलेक्टर ने कहा कि कोई भी व्यक्ति, माँ और बच्चा सुबह का नाश्ता समय पर प्राप्त कर ले तो उसकी आधी समस्या खत्म हो जायेगी। उन्होने कहा कि हमें ज्यादा नहीं खाना बल्कि सही समय पर सही गुणवत्ता एवं सही मात्रा का होना आवश्यक है। उन्होने कहा कि आँगनवाड़ियों में बच्चों को समय से नाश्ता एवं भोजन उपलब्ध हो। नाश्ता प्रातः 9ः30 बजे एवं भोजन दोपहर 12ः30 बजे से 1 बजे के बीच बच्चों को अवश्य प्रदान करें। उन्होने कहा कि हर व्यक्ति के दिल तक जाने के लिये सिर्फ एक ही रास्ता है, वो है पेट। जितना पेट खुश रहेगा उतना दिल भी खुश होगा। उन्होने कहा कि टेस्ट के साथ-साथ पोषक तत्वों पर भी ध्यान दें।
कार्यक्रम में पूर्व विधायक डाॅ. रामकिशोर दोगने ने कहा कि पोषण तो माँ से शुरू होता है। सबसे पहले माँ को तैयार करें। माँ यदि सुरक्षित रहेगी तो बच्चा भी सुरक्षित होगा। उन्होने कहा कि हमारा जिला पोषण आहार के संबंध में प्रदेश में पाँचवे स्थान पर है, यह आपके ईमानदारी से कार्य करने का परिणाम है। माँ और बच्चा यदि सुरक्षित होगा तो देश निश्चित ही स्वच्थ रहेगा तथा आगे बढ़ेगा।
कार्यक्रम में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री संजय त्रिपाठी ने कहा कि पोषण माह में शासन की मंशा है कि हम किस तरह अपने जिले में कुपोषित बच्चों के लिये कार्य करें। इस हेतु स्थानीय स्तर पर जो पोषक तत्व उपलब्ध है, वे किस तरह महिलाओं एवं बच्चों को उपलब्ध हो सके, इस हेतु हम प्रयास करेंगे। उन्होने कहा कि हम आँगनवाड़ी केन्द्रों को न्यूट्रीशन का हब बनाना चाहते है। हमने जिले के 208 आँगनवाड़ी केन्द्रों को विकसित कर बाल शिक्षा केन्द्र के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया है। इस माह हम 36 आँगनवाड़ी केन्द्रों को अपग्रेड कर रहे है। उन्होने महिला एवं बाल विकास द्वारा कम लागत में पोषण की उपलब्धता की जानकारी दी जैसे घरो में उपलब्ध गेहँू, चना, मूंग दाल व मक्का का उपयोग कर कम लागत में भी उचित पोषण प्राप्त किया जा सकता है।
कार्यक्रम में न्यूट्रीशनल इंटरनेशनल संस्था के संभागीय समन्वयक श्री सुनील कटारे ने हर घर पोषण व्यवहार थीम पर आधारित पोषण माह की गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होने बताया कि बच्चों, गर्भवती माताओं, धात्री माताओं के पोषण स्तर में सुधार लाना तथा नवजात बच्चों में कम वजन, बच्चों में ठिग्नापन, कुपोषण एवं रक्ताल्पता दर में अगले तीन वर्षो में उत्तरोतर कमी लाना इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है।
कार्यक्रम में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा जिले में उपलब्ध फोर्टिफाईड गेहूँ एवं मक्का की किस्मों के बारे में जानकारी प्रदान की गई। उन्होने बताया कि फोर्टिफाईड गेहूँ की किस्म में पर्याप्त मात्रा में जिंक की मात्रा पाई जाती है। इसी प्रकार लाल रंग की मक्का में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, आयरन एवं केल्शीयम की मात्रा पायी जाती है। उन्होने बताया कि यदि आँगनवाड़ियों में खाली जगह को न्यूट्रीशन गार्डन के रूप में विकसित किया जाए तो यह काफी उपयोगी सिद्ध होगा।
कार्यक्रम में व्यंजन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था, जिसमें आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ सिनर्जी संस्था के कार्यकर्ताओं द्वारा भी सहभागिता की गई। व्यंजन प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार श्रीमती वर्षा वामने, द्वितीय पुरस्कार श्रीमती राधा राठौर एवं उनकी सहयोगी तथा तृतीय पुरस्कार श्रीमती प्रिती यादव ने प्राप्त किया। कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा स्नेह सरोकार योजना में कुपोषित बच्चों को गोद लेकर उनकी सेवा करने एवं इसीसी माॅडल आँगनवाड़ी केन्द्रों में मदद करने पर श्रीमती रेखा विश्नोई, श्रीमती वीणा त्रिपाठी तथा श्रीमती अनिता अग्रवाल को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका गोयल, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास डाॅ. राहुल दुबे, जिला स्तर का समस्त स्टाफ एवं परियोजना अधिकारी उपस्थित थे।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

प्रशासन की अनदेखी, स्कूल और क्लिनिक के आस-पास खुल गई फटाखों की दुकान, मासूम बच्चो की जान हथेली पर 

सोनू ढोके सवांददाता मकड़ाई समाचार हरदा / नेहरू स्टेडियम के पास देव उठनी ग्यारस पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

महाराष्ट्र की राजनीति में नया अध्याय: शिवसेना-राकांप-कांग्रेस का गठजोड़ ले रहा आकार     |     राम रहीम से मिलने के लिए बेताब हनीप्रीत, 3 बार मांग चुकी है इजाजत     |     ‘मोदीनॉमिक्स’ ने किया नुकसान इसलिए सरकार छिपा रही रिपोर्टः राहुल गांधी     |     दाइची सैंक्यो केसः SC ने मलविंदर और शिविंदर को अवमानना का दोषी ठहराया     |     बेटी इल्तिजा की मांग पूरी, महबूबा को किया दूसरी जगह शिफ्ट     |     INX मीडिया केस: पी चिदंबरम को राहत नहीं, दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका     |     BJP गरीबी को किनारे लगाने पर ध्यान दे: प्रियंका गांधी     |     महाराष्ट्र BJP अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल बोले – हमारी पार्टी के बिना कोई सरकार नहीं बन सकती     |     प्रदूषण पर होनी थी बैठक, गैरहाजिर गौतम गंभीर इंदौर में जलेबी चखते दिखे, AAP ने साधा निशाना     |     अर्थव्यवस्था अच्छी है, लोग शादी कर रहे हैं, हवाईअड्डे ठसाठस हैं : केंद्रीय मंत्री     |    

Makrai Samachar

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.