Wednesday , December 11 2019

चंद्रयान-2: विक्रम की लैंडिंग में कहां हुई गड़बड़ी, जांच में जुटे ISRO के वैज्ञानिक

बेंगलुरुः भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के सिवन ने चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने के बाद इसरो के भावी मिशनों की चर्चा करते हुए शनिवार को कहा कि कोशिश करने वाले कभी हार नहीं मानते। वहीं शिवन ने कहा कि इसरो के वैज्ञानिक इस बात की जांच कर रहे हैं कि विक्रम लैंडर की लैंडिंग में गड़बड़ी कहां हुई, कैसे हुई? वैज्ञानिकों ने पूरा डाटा खंगालना शुरू कर दिया है। वैज्ञानिक हर उस सवाल का ढूंढने के लिए विक्रम लैंडर के टेलिमेट्रिक डाटा, सिग्नल, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, लिक्विड इंजन का विस्तारपूर्वक अध्ययन कर रहे हैं कि आखिर चूक कहां पर हुई।

लैंडर विक्रम से संपर्क फिर स्थापित करने के प्रयास लगातार जारी रहेंगे और संपर्क होते ही रोवर को सक्रिय कर दिया जाएगा। इसरो प्रमुख ने बताया कि मिशन में दो तरह के लक्ष्य थे- एक वैज्ञानिक लक्ष्य दो ऑर्बिटर द्वारा पूरे किए जाने हैं और दूसरा प्रौद्योगिकी प्रदर्शन जिनमें लैंडर की चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग तथा रोवर की सतह पर चहलकदमी शामिल है। विक्रम का संपर्क तब टूटा जब वह चांद की सतह से 2.1 किमी दूर था।

लैंडर विक्रम का वजन 1471 किलोग्राम था और इसे नियंत्रित तरीके से नीचे लाने की प्रक्रिया ‘रफ ब्रेक्रिंग’ के साथ शुरू हुई और इसने 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई रह जाने तक ‘फाइन ब्रेक्रिंग’ के चरण को सही तरीके से पूरा किया जिसे जटिल और भयावह माना जाता है, लेकिन यहां के बाद एक बयान ने मिशन कंट्रोल सेंटर में मौजूद चेहरों पर निराशा की लकीर खींच दी कि ‘विक्रम’ के साथ संपर्क टूट गया है। चंद्रयान-2 ने 22 जुलाई को प्रक्षेपण के बाद 47 दिनों तक विभिन्न प्रक्रियाओं को सफलतापूर्वक पूरा करने के साथ करीब चार लाख किलोमीटर की दूरी तय की।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

चंद्रयान 2 : लैंडर विक्रम पर माइनस 200 डिग्री सेल्सियस का कहर!

क्या एक बार फिर से लैंडर विक्रम (Vikram) से इंडियन स्पेस रिसर्च आर्गेनाइजेशन (ISRO)के वैज्ञानिक संपर्क साध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मौसम अलर्ट: मध्य प्रदेश के कई जिलों में हो सकती है बारिश के साथ ओलावृष्टि     |     कमलनाथ कैबिनेट मीटिंग में लगी इन अहम प्रस्तावों पर मोहर     |     सिंधिया ने नागरिकता संशोधन बिल का किया समर्थन, कहा- इसमें है वसुधैव कुटुंबकम की विचारधारा और सभ्यता     |     हनी ट्रैप का खुलासा करने वाले जीतू सोनी के दफ्तर पर चला बुलडोजर     |     अमेरिकी संसद समिति भी CAB के खिलाफ, बताया लोकतांत्रिक मूल्यों का विरोधी     |     CAB पर प्रदर्शन: असम सचिवालय के निकट छात्रों-पुलिस के बीच झड़प, रेलवे ने कई ट्रेनें रद्द कीं     |     प्रियंका गांधी का तंज- वित्त मंत्री जी, आप प्याज ना खाओ लेकिन हल तो निकालो     |     J&K से आतंकियों का सफाया करेगी ‘अमेरिकन असॉल्ट रायफलें’, सेना की बढ़ी ताकत     |     नागरिकता बिल पर शिवसेना का यू टर्न, राउत बोले- बदल सकते हैं हम अपना स्टैंड     |     भोपाल में आज 60 रुपए किलो दाम पर मिलेगा प्याज     |    

Makrai Samachar

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.