Wednesday , December 19 2018

मलेशिया सरकार ने मृत्युदंड को लेकर दिया एेताहिसक फैसला

कुआलालंपुरः मलेशिया के मंत्रिमंडल ने मृत्यु दंड को लेकर एेताहासिक फैसला करते हुए इसे खत्म करने पर सहमति जताई है। इस फैसले का मानवाधिकार समूहों ने स्वागत किया है।  मलेशिया में फिलहाल हत्या, अपहरण, आग्नेयास्त्रों समेत अन्य अपराधों के लिये मौत की सजा अनिवार्य है।

मलेशिया में फांसी देकर मौत की सजा दी जाती है। यह ब्रिटिश औपनिवेशिक काल की विरासत है। संचार एवं मल्टी मीडिया मंत्री गोविंद सिंह देव ने मृत्यु दंड को समाप्त करने के मंत्रिमंडल के संकल्प की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि कानून में संशोधन होगा।

सरकार ने मृत्यु दंड की सजा को समाप्त करने का फैसला किया क्योंकि इसका घरेलू मोर्चे पर जोरदार विरोध हो रहा था। इस फैसले का अधिकारों की पैरवी करने वाले अधिवक्ताओं ने स्वागत किया है। लॉयर्स फॉर लिबर्टी अधिकार समूह के एक सलाहकार एन सुरेंद्रन ने एक बयान में कहा, ‘‘मौत की सजा बर्बरतापूर्ण है और  अकल्पनीय रूप से क्रूरतापूर्ण है।’’

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

जम्मू-कश्मीरः पाकिस्तान ने किया सीजफायर उल्लंघन, गोलीबारी जारी

पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मानहानि मामले में स्मृति ईरानी को बड़ी राहत, जारी समन हुआ रद्द     |     शिवराज की लोक-लुभावन योजनाएं कमलनाथ सरकार के लिए बन सकती है मुसीबत     |     पकड़ा गया लंबे समय से फरार इनामी गैंगस्टर, पुलिस ने इस तरह दबोचा     |     अस्पताल में नाबालिग से छेड़छाड़, मचा हड़कंप     |     नर्मदा पुल पर हवा में लटकी यात्रियों से भरी बस, मची चीख पुकार     |     सैक्स रैकेट का भंडाफोड़, कॉल गर्ल समेत 7 गिरफ्तार     |     राफेल मामले में SC से मिली क्लीन चिट तो BJP ने शुरू किया कांग्रेस का घेराव     |     पेटा इंडिया 2018: सोनम कपूर बनीं ‘पर्सन ऑफ दी ईयर’, लोगों को किया जागरुक     |     मुंबई में आज निकयांका देंगे शादी का दूसरा रिसेप्शन,रिश्तेदारों सहित मीडियाकर्मियों को किया इनवाइट     |     पोती सारा की फिल्म देख शर्म‍िला टैगोर ने अमृता को भेजा खास मैसेज     |