मलेशिया सरकार ने मृत्युदंड को लेकर दिया एेताहिसक फैसला

कुआलालंपुरः मलेशिया के मंत्रिमंडल ने मृत्यु दंड को लेकर एेताहासिक फैसला करते हुए इसे खत्म करने पर सहमति जताई है। इस फैसले का मानवाधिकार समूहों ने स्वागत किया है।  मलेशिया में फिलहाल हत्या, अपहरण, आग्नेयास्त्रों समेत अन्य अपराधों के लिये मौत की सजा अनिवार्य है।

मलेशिया में फांसी देकर मौत की सजा दी जाती है। यह ब्रिटिश औपनिवेशिक काल की विरासत है। संचार एवं मल्टी मीडिया मंत्री गोविंद सिंह देव ने मृत्यु दंड को समाप्त करने के मंत्रिमंडल के संकल्प की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि कानून में संशोधन होगा।

सरकार ने मृत्यु दंड की सजा को समाप्त करने का फैसला किया क्योंकि इसका घरेलू मोर्चे पर जोरदार विरोध हो रहा था। इस फैसले का अधिकारों की पैरवी करने वाले अधिवक्ताओं ने स्वागत किया है। लॉयर्स फॉर लिबर्टी अधिकार समूह के एक सलाहकार एन सुरेंद्रन ने एक बयान में कहा, ‘‘मौत की सजा बर्बरतापूर्ण है और  अकल्पनीय रूप से क्रूरतापूर्ण है।’’

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

नेपाल के हिल्‍सा में 40 भारतीय यात्री फंसे, सरकार से लगाई गुहार

काठमांडू। नेपाल (Nepal) के हिल्‍सा (Hilsa) के नजदीक तेलंगाना (Telangana) के 40 लोग बीते चार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 साल 9 महीने और 10 दिन के टिमरनी खिलाड़ी मोहित उइके ने रच दिया इतिहास, 60 सेकंड में 281 कराटे किक करके इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया     |     कुकरावद: आकाशीय बिजली गिरने से एक दर्जन बकरा बकरियों की मौत     |     शिक्षा विभाग का शिक्षा रथ पहुँचा गॉव की चौपाल तक ,ग्राम वासियों को दी शिक्षा की जानकारी     |     प्रदेश में सत्ता जाने से भाजपा नेताओं का दिमागी सन्तुलन बिगड़ा- लक्ष्मीनारायण पँवार(कांग्रेस जिलाध्यक्ष)     |     प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ हर एक गृहिणी को मिले यही हमारा लक्ष्य है – संदीप पटेल     |     शॉपिंग मॉल में महिला चोर ने उड़ाया महिला का बैग, सीसीटीवी ने खोली पोल     |     शिवराज के बेटे ने कमलनाथ के ‘तबादला उद्योग’ पर उठाए सवाल, कहा- जनता के हित में भी प्रयास करें     |     MP में मानसून की एंट्री, हल्की बारिश से खुशगवार हुआ मौसम     |     आय से अधिक संपत्ति मामले में रिटायर्ड SDO के ठिकानों पर छापेमारी, छानबीन जारी     |     इंदौर के चायवाले की चिट्ठी का PMO से आया जवाब, मांगी थी इच्छामृत्यु     |    

Makrai Samachar

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.