होली का पर्व शांति एवं सौहार्द्र के साथ मनाये – श्री विश्वनाथन

नशाखोरी करने तथा हुड़दंगी तत्वों आदि पर पुलिस प्रशासन की रहेगी पैनी नजर

हरदा/ जिले में आगामी होली और रंगपंचमी त्यौहार परम्परागत तरीके से सौहार्द्रपूर्ण वातावरण से मनाया जायेगा। जिला शांति समिति के सदस्यों ने होली दहन के लिए प्रतीकात्मक लकड़ी जलाने, नये स्थानों पर होली नहीं जलाने, यातायात पर व्यवधान पड़ने वाले स्थान पर होली नहीं जलाने, हानिकारक रंगों का इस्तेमाल नहीं करने, किसी पर जबरजस्ती रंग नहीं डाले जाने, कोलाहल अधिनियम का सख्ती से पालन किये जाने की हरदा जिले वासियों से अपील की।

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री एस. विश्वनाथन की अध्यक्षता में कलेक्टोरेट में आयोजित जिला शांति समिति की बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री भगवतसिंह बिरदे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री गजेन्द्रसिंह वर्धमान जिले के राजस्व अधिकारी, पुलिस अधिकारी एवं समिति के सदस्य मौजूद थे। श्री विश्वनाथन ने निर्देशित किया कि लोकसभा निर्वाचन 2019 के अंतर्गत आचार संहिता लागू है। त्यौहार के दौरान यह सुनिश्चित करें कि आचार संहिता का कही भी उल्लंघन न हो। ये हम सबका दायित्व होगा कि जिले में त्यौहार शांति एवं सौहार्द्रपूर्ण वातावरण में बने। उन्होने कहा कि ये त्यौहार जनता को एक साथ जुड़ने का मौका है। सभी समुदाय के लोगों को इस हेतु जोड़ने के लिये सभी के सहयोग की आवश्यकता होती है। सभी समुदाय के लोग त्यौहार का आनन्द ले सके, इसका जिले में ऐसी व्यवस्था बनी रहना चाहिए। बैठक में बताया गया कि विद्युत लाईन पर गीले कपड़े, टायर आदि फेंकने, मोटर सायकिलों पर 3 सवारी चढ़ने, नशाखोरी करने तथा हुड़दंगी तत्वों आदि पर पुलिस प्रशासन पैनी नजर रखकर कार्यवाही करेगा। नगर पालिका को अतिरिक्त जल प्रदाय करने के निर्देश बैठक में दिये गये। श्री विश्वनाथन ने ईई पीडब्ल्यूडी को निर्देशित किया कि रंगपंचमी पर निकलने वाले जुलूस मार्ग पर यह सुनिश्चित करे कि जुलूस के मार्ग में किसी भी प्रकार का अवरोध न हो। अभिभावकों से अपील की गई कि छोटे बच्चों को वाहन चलाने हेतु नहीं दे। कोलाहल अधिनियम के बारे में बताया कि वर्तमान में विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओं में बोर्ड परीक्षाएं संचालित होने जा रही है। अतः लोक संबोधन प्रणाली के प्रयोग से पढ़ाई में व्यवधान न हो, सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी गाईड लाइन का अनिवार्य रूप से पालन हो। ध्वनि विस्तारक यंत्र का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। होलिका दहन से सार्वजनिक सम्पत्ति सुरक्षित रहे इसका ध्यान रखा जावे। होलिका दहन का कार्यक्रम 20 एवं 21 की रात्री को होगी। 21 मार्च को धुलेडी रहेगी तथा 25 मार्च को रंगपंचमी रहेगी। एमपीईबी में कर्मचारी ड्यूटी पर रहे ताकि आपातकालीन स्थिति में सम्पर्क किया जा सके। जिले के सभी चिकित्सालय में स्वास्थ्य कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जावे ताकि आवश्यकता पड़ने पर तत्काल उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जा सके। राजस्व अधिकारी एवं पुलिस होलिका दहन का स्थान चिन्हांकित कर निरीक्षण कर ले कि बिजली के तार या कोई लाईन तो नहीं है, सड़क की स्थिति तथा पानी की व्यवस्था आदि सुनिश्चित करें तथा मोहल्ले के नागरिकों से इस संबंध में चर्चा करें। जबरजस्ती किसी को रंग न लगाये जाए जो व्यक्ति होली खेलने आ रहा है केवल उसी को ही रंग लगाए। जहाँ तक हो सुखी होली खेले। जिससे पानी की बचत भी होगी तथा त्वचा को नुकसान भी नहीं होगी। श्री विश्वनाथन ने कहा कि रंग सामान्य होना चाहिये, नुकसानदायक रंगों का प्रयोग न किया जाए। जो दुकानदार इस प्रकार के रंग बेचते है उनके रंग जब्त कर लिये जाए। उन्होने निर्देशित किया कि सभी विभाग सौंपे गये दायित्वों का पालन करें।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

उपज का भुगतान व्यापारी द्वारा 5 दिवस में न करने पर मण्डी कार्यालय में शिकायत दर्ज करें

हरदा । सचिव, कृषि उपज मण्डी हरदा ने समस्त कृषक बंधुओं को सूचित किया है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Makrai Samachar

पाकिस्तान में मोदी की जीत से ज्यादा चर्च में रही राहुल की हार     |     जाकिर मूसा की मौत को लेकर कश्मीर में तनाव , स्कूल कालेज बंद और हाईवे बंद     |     ब्रेक्जिट मामले पर UK की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने दिया इस्तीफा, हुई भावुक     |     मुझे हराने वाला कोई पैदा नहीं हुआ’ कहने वाले निरहुआ को अखिलेश ने ‘सटा दिया’     |     जीत के बाद साध्वी प्रज्ञा बोलीं- विरोध होते हैं, लेकिन विजय साध्वी की होती है     |     हार के शोक में डूबी कांग्रेस, इस नेता ने उठाए कमलनाथ पर सवाल     |     कांग्रेस की हार पर शिवराज का तंज- जनता ने अपना बदला ब्याज सहित लिया     |     MP में मोदी लहर ने उत्साह से भरी कांग्रेस का निकाला दम     |     जीत के बाद बोलीं साध्वी- सभी से सीख लूंगी, भोपाल के विकास की रहेगी कोशिश     |     शादी में शामिल होने आए 3 बच्चियां तालाब में डूबी, मौत     |    

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.