जागरूकता द्वारा ही दहेज़ की बुराई को समाप्त किया जा सकता है – कु, रक्षा गौर

मदन गौर सवांददाता
हरदा// कौन कहता है की देहातों में प्रतिभाओं की कमी है आज भी बेटों से बेटियों आगे हैं बेटियों को कभी बोझ मत समझना बेटी है तो कल है यह वांनगी गौर समाज के आदर्श सामूहिक विवाह मै देखने को मिली देहात में जन्म लिया बड़ी हुई और सरकारी स्कूल में पढ़ी और संस्कारवान बनी इस बालागाँव की बेटी ने मां बाप का मान सम्मान तो बढ़ाया लेकिन साथ साथ जब मंच पर बोलने पर कहां गया तो रक्षा गौर ने अपने उद्बोधन पर बसंत पंचमी के पावन पर्व पर रविवार को क्षत्रिय कुर्मी गौर समाज आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन मै रक्षा गौर द्वारा सामुहिक विवाह आयोजन मै मंच पर बोलने का अवसर मिला। जिसमें महिलाओ और पुरुषों को समाजिक गतिविधियों पर हर बिन्दुओं पर चर्चा करना चाहिऐ रक्षा गौर ने अपने ओजस्वी भाषण से कहा कि पुरानी रूणीवादी खत्म हों आज के चालीसवाँ सम्मेलन मै दहेज न लेने और न देने बारे जागरूक किया गया बेटी बचाओ बेटी पढाओ नारे मै तो अच्छा लगता है।पर इसे अमल मै कोई नही लेता दहेज रूपी दानव को जड़ से समाप्त होना चाहिये लडकी व लडक़े की शादी के समय न तो दहेज दें और न ही दहेज लें क्योंकि यह एक सामाजिक बुराई है तथा एक कानूनी अपराध भी है। यह सामाजिक बुराई तभी खत्म हो सकती है जब लड़कियां व महिलाएं इसके प्रति जागरूक हों। कुमारी रक्षा गौर ने कहा कि हमारे ग्राम बालागाँव के राधेश्याम गौर ने गौर समाज के समाजिक मंच पर 31/1/1990को दहेज़ न लेने की शपथ लेकर पुरजोर तरीक़े से इस कुप्रथा का सक्रिय होकर विरोध कर चुके हैं और आज तक निभा रहे हैं उन्होंने कहा कि सबसे
बड़ा दहेज खुद लडक़ी है क्योंकि लड़कियां पढ़ी लिखी समझदार व अपने पांव पर खड़ी हैं और लडक़ों के साथ कंधे के कंधा मिलाकर कार्य कर रही हैं तथा उन्होंने अपनी एक नई पहचान बनानी शुरू कर दी है। अब भी समाज में दहेज के कारण बहुत सी लड़कियों को अपनी जान भी देनी पड़ जाती है। मैं इस सामाजिक मंच के द्वारा आपको चेतावनी देती हूं कि आप कुआरी मर जाना पर दहेज लोभियों को दहेज मत देना बेटियों को बोझ मत समझना जागरूकता द्वारा ही इस सामाजिक बुराई को समाप्त किया जा सकता है। जैसे लड्डू पच मृत्यु भोज विवाह शादियों में डीजे आतिशबाजी भी कम होना चाहिए व्यर्थ का दिखावा ना करें समय का सही सदुपयोग करें जिससे अर्थ बचेगा वह आपके ही काम आएगा इस मौके पर अदिति ने स्वागत गीत गाकर सभी समाजिक बंधुओं का अभिवादन किया वही पर नंदनी गौर ने मंच पर विदाई गीत सुनाया तब विवाह स्थल पर एक पल के लिए सन्नाटा छा गया और सभी की आंखों में आंसुओं की धार टप टप टप आते रहे और भाव विभोर होकर इस बेटी के विदाई गीत को श्रवण करते रहे आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन त्रिवेणी संगम ग्राम दुलिया में समिति के तमाम आयोजक एवं समाज के प्रतिनिधि एवं वर वधू और उनके सभी रिश्तेदार जिले की तमाम गौर समाज एकत्रित थी इन बेटियों ने सभी का दिल जीत लिया और आंखें नम कर दी

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

हरदा पुलिस ने किया कालेज में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, आरोपी युवक भृत्य ओर चौकीदार सहित दो अन्य गिरप्तार

  मकड़ाई समाचार हरदा/ रविवार रात्रि को स्वामी विवेकानंद कालेज में हुई लाखो रुपये की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लगभग 10 मिनिट तक तेज बारिश के साथ गिरे ओले किसान चिंतित     |     प्रभारी मंत्री पी.सी. शर्मा की अध्यक्षता में जय किसान ऋण माफी योजना को लेकर बैठक हुई संपन्न     |     नियमतिकरण को लेकर सीएम को सौंपेगा संघ ज्ञापन     |     हरदा पुलिस ने किया कालेज में हुई लाखो की चोरी का खुलासा, आरोपी युवक भृत्य ओर चौकीदार सहित दो अन्य गिरप्तार     |     किराना व्यापारी को पान पराग के मिसप्रिंट पैकेट बेचने पर 3 माह की जेल     |     लूट और चोरी की घटना के बाद पुलिस ने चलाया वाहन चैकिंग अभियान     |     डिप्टी कलेक्टर और एसडीएम ने शिवहरे क्लीनिक को किया सील,लगातार मिल रही थी शिकायत     |     स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में 14 लाख की चोरी, पुलिस ने दो संदिग्ध युवकों को पकड़ा     |     व्यापारी से अज्ञात बदमाशों ने लूट की घटना को दिया अंजाम, गाड़ी छोड़कर भागे     |     राठौर क्षत्रिय समाज क्षेत्रीय संगठन द्वारा हरदा विधायक एवं पूर्व मंत्री कमल पटेल का किया सम्मान     |