खाद्य एवं औषधि विभाग ने की कार्यवाही ,राज फ्रूटस सप्लायर की दुकान से लगभग 50 किलो पपीता करवाई नष्ट

हरदा/ खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने नायब तहसीलदार विमलेश उइके के साथ कृषि उपज मंडी में स्थित थोक फल विक्रेताओं के प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया, जिसमे राज फ्रूट्स सप्लायर के निरीक्षण में पाया गया कि पपीता को पकाने में कार्बाइड केमिकल का उपयोग किया गया था, जिसमे पपीता के ढेर में से एक एक पुड़िया कार्बाइड केमिकल की निकाल कर केमिकल के परीक्षण हेतु नमूना लेकर जांच हेतु राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भोपाल भेजा गया । सड़ी गली और केमिकल से प्रभावित पकी हुई 40-50 किलो पपीता नष्ट कराई गई सभी फल विक्रेताओं को विभाग द्वारा पुनः निर्देशित किया जाता है कि किसी भी प्रकार के फल को पकाने में कैल्शियम कार्बाइड का उपयोग न करें । खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम 2006 विनियम 2011 के द्वारा फलों को पकाने में कार्बाइड के उपयोग को प्रतिबंधित किया गया है । कार्बाइड से पके फलों को खाने से फायदा कम स्वास्थ्य को नुकसान अधिक होता है,। विभाग द्वारा इस संबंध में लगातार कार्यवाही जारी रहेगी ।

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

यातायात पुलिस छात्र छात्राओं को स्कूलों में जाकर सीखा रहे यातायात नियमो का पाठ

मकड़ाई समाचार हरदा/ गुरुवार को थाना यातायात हरदा द्वारा शहर के विभिन्न स्कूलों में यातायात …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आमिर खान की ‘रुबरू रोशनी’ की स्पेशल स्क्रीनिंग में शामिल हुए बॉलीवुड के ये सितारे     |     भोपाल से चुनाव लड़ने की खबर पर करीना ने दिया जवाब, कहा- इतनी फुर्सत नहीं…     |     PICS: ऑफ शाॅल्डर टाॅप में नेहा ने दिखाए हुस्न के जलवे     |     कोहली को खली हार्दिक की कमी, बोले- अब विशेषज्ञ तेज गेंदबाज को देना पड़ेगा चांस     |     11 साल बाद भज्जी को हुआ पछतावा, बोले- नहीं मारना चाहिए था श्रीसंत को थप्पड़     |     स्टीपास और कोलिंस ऑस्ट्रेलियन ओपन में विजेता बनने से 2 कदम दूर     |     अफगान सैन्य अड्डे पर तालिबान हमले में 100 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों की मौत     |     इंडोनेशिया में 6.0 तीव्रता का भूकंप के झटके     |     पाकिस्तान की कोयला खदान में धमाका, 3 की मौत     |     तोगड़िया बनाएंगे नई पार्टी, बोले- सत्ता में आए तो 7 दिन में शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण     |