मैं जिन भारतीय टीमों का हिस्सा रहा हूं, उनमें ये सर्वश्रेष्ठ है: पुजारा

सिडनी: भारत ने बारिश और खराब मौसम के कारण चौथा और अंतिम टेस्ट मैच ड्राॅ छूटने के साथ ही ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराकर सोमवार को यहां आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली बार टेस्ट श्रृंखला जीती। ऐेसे में भारत की रन मशीन चेतेश्वर पुजारा ने ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली बार टेस्ट सीरीज जीतने वाली वर्तमान टीम के बारे में बताया कि वह अब तक जितनी भी टीमों का हिस्सा रहे हैं उनमें यह सर्वश्रेष्ठ है। पुजारा ने 74.42 की औसत से 521 रन बनाए जिसमें तीन शतक शामिल हैं। उन्हें इस ऐतिहासिक जीत पर मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। वहीं भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाली एशिया की भी पहली टीम बनी। विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाले भारत के पहले कप्तान बने।
सीरीज जीतने के बाद पुजारा ने कहा, ‘यह हम सबके लिए शानदार अहसास है। हमने विदेशों में श्रृंखला जीतने के लिए कड़ी मेहनत की और ऑस्ट्रेलिया में श्रृंखला जीतना कभी आसान नहीं रहा। मैं जिन भारतीय टीमों का हिस्सा रहा उनमें यह सर्वश्रेष्ठ है। मैं टीम के सभी साथियों को बधाई देता हूं।’ पुजारा ने गेंदबाजी आक्रमण की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘हम चार गेंदबाजों के साथ खेले और 20 विकेट लेना आसान नहीं है। इसलिए श्रेय तेज गेंदबाजों और स्पिनरों को जाता है। यह उल्लेखनीय है।’ टेस्ट श्रृंखला में अपनी शानदार फार्म के बारे में पुजारा ने कहा, ‘मैं अपने योगदान से वास्तव में बहुत खुश हूं। एक बल्लेबाज के रूप में मैंने तेजी और उछाल से सामंजस्य बिठाया। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में खेलने से मुझे अपनी तकनीक में सुधार करने में मदद मिली। मेरे लिहाज से यह सब तैयारियों से जुड़ा है और मैं अच्छी तरह से तैयार था।’ पुजारा ने एडिलेड में श्रृंखला के पहले मैच में शतक को विशेष करार दिया। उन्होंने कहा, ‘एडिलेड में शतक लगाना और फिर 1-0 से बढ़त हासिल करना। हमारा यही लक्ष्य था।’
भविष्य की अपनी योजनाओं के बारे में उन्होंने कहा, ‘मैं स्वदेश में कुछ प्रथम श्रेणी मैचों और आईपीएल के दौरान काउंटी क्रिकेट में खेलूंगा। अगली टेस्ट श्रृंखला छह-सात महीने बाद है और इससे मुझे तैयारियों के लिए कुछ समय मिलेगा। मैं सीमित ओवरों की क्रिकेट खेलना चाहता हूं पर टेस्ट क्रिकेट मेरी प्राथमिकता है और यह हमेशा रहेगा।’ ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने स्वीकार किया कि एक मजबूत टीम ने उनकी टीम को हर विभाग में मात दी और भारत जीत का हकदार था। पेन ने कहा, ‘भारत को जीत पर बधाई। हम जानते हैं कि भारत में जीतना कितना मुश्किल है इसलिए विराट और रवि को बधाई क्योंकि यह बड़ी उपलब्धि है। वे श्रृंखला में जीत के हकदार थे।’ उन्होंने कहा, ‘हम पिछले दो टेस्ट मैचों में अपने प्रदर्शन से वास्तव में निराश हैं। एडिलेड में हमारे पास मौके थे और पर्थ में हमने अच्छी क्रिकेट खेली लेकिन मेलबर्न और सिडनी में हमारी टीम किसी भी समय मुकाबले में नहीं रही।’

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

IPL 2019: ग्राउंड पर आते ही WC 2011 की याद पर भावुक हुए युवराज सिंह

 वर्ल्ड कप से ठीक पहले जैसा कि आपको पता है की दुनिया की सबसे ग्लैमरस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Makrai Samachar

मिशन 2019: 131 सुरक्षित सीटों पर इस बार होगा दिलचस्प मुकाबला, BJP के सामने बड़ी चुनौती     |     बारिश की मार व कर्जमाफी से परेशान किसान ने खाया जहर     |     किसान से मांगी थी रिश्वत, सिखाया ऐसा सबक की गंवानी पड़ी नौकरी     |     25 लाख चौकीदारों से पीएम मोदी का संवाद, कहा चौकीदार ईमानदारी का पर्याय     |     लोकसभा चुनावें की तैयारियां जोरों पर, लोगों को दी जा रही ईवीएम और वीवीपैट की जानकारी     |     सात दशक में लोकसभा में महिलाओं की हिस्सेदारी करीब 7% बढ़ी, वैश्विक औसत से अभी भी पीछे     |     आचार संहिता उल्लंघन मामले में संबित पात्रा को कोर्ट से राहत     |     प्रियंका के बचाव में उतरे सिंधिया, कहा – गंगा किसी की बपौती नहीं     |     नरेंद्र तोमर का दो सीटों से नाम तय, कट सकता है सांसद अनूम मिश्रा का टिकट     |     लोकसभा चुनाव: एनसी-कांग्रेस के बीच गठबंधन की घोषणा जल्द     |    

MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.


MAKDAI SAMACHAR © 2018, All Rights Reserved. | Design & Developed by SMC Web Solution.