ग्रहण के दौरान किन कामों को करना वर्जित है

2019 का पहला खण्डग्रास सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को लगने वाला है। ग्रहण के समय चंद्रमा धनु राशि और मूल नक्षत्र में होगा। आज यानि 5 जनवरी की शाम 05:04 पर ग्रहण का सूतक लगेगा। मोक्ष काल सुबह 09:18 पर होगा। ग्रहण का प्रभाव कल सुबह 05:04 पर होगा। बहुत से लोग ग्रहण को मात्र एक खगोलीय घटना ही मानते हैं और इसमें किसी भी प्रकार की सावधानी बरतने को अंधविश्वास या दकियानूसी करार देते हैं। यह उनकी मान्यता हो सकती है परंतु वैज्ञानिक दृष्टि से भी ग्रहण के समय रेडिएशन के कारण आंखों, रक्त संचार, रक्त चाप और खाद्य पदार्थों पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। जब ग्रहण का सूतक लगता है तो उस दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइए जानें ग्रहण पर क्या करें क्या नहीं-

घर में जितनी भी खाने-पीने की चीज़े हैं, उनमें कुश या दूब डाल कर रखनी चाहिए।

संक्रमण से बचने के लिए तुलसी का प्रयोग भी कर सकते हैं।

रसोई में खाना नहीं बनाना चाहिए।

ग्रहण के दौरान मन्दिर में पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए, मंत्रों का उच्चारण किया जा सकता है।

कुछ भी खाना-पीना नहीं चाहिए।

संभोग नहीं करना चाहिए।

खुले में खाद्य सामग्री न रखें।

ग्रहण लगने से पहले और दो दिन बाद तक के संक्रमण काल में कोई भी शुभ अथवा महत्वपूर्ण काम, विवाह, निर्माण, नए व्यवसाय का आरंभ, सगाई, लंबी अवधि का निवेश, मकान का सौदा या एडवांस आदि काम नहीं करने चाहिए क्योंकि उनके सफल होने में संदेह रहता है।

सूर्यदेव के इन मंत्रों का जाप करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है। ग्रहण से संबंधित किसी भी तरह की नेगेटिविटी का प्रभाव नहीं पड़ता। मंत्र- ‘ॐ ह्रां ह्रीं हौं स: सूर्याय नम:, ऊँ घृणिः सूर्याय नमः

About Mohan Gurjar

Mohan Gurjar

Check Also

गणपति वंदना से पूजा की शुरूआत क्यों करनी चाहिए

हिंदू धर्म में किसी भी शुभ काम का आरंभ श्री गणेश की पूजा से होता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हरदा: जनसुनवाई में एडीएम के विवादित बोल , क्या घर घर गॉव गॉव खुलवा दु खरीदीं केंद्र, किसानों ने लगाया आरोप     |     आमिर खान की ‘रुबरू रोशनी’ की स्पेशल स्क्रीनिंग में शामिल हुए बॉलीवुड के ये सितारे     |     भोपाल से चुनाव लड़ने की खबर पर करीना ने दिया जवाब, कहा- इतनी फुर्सत नहीं…     |     PICS: ऑफ शाॅल्डर टाॅप में नेहा ने दिखाए हुस्न के जलवे     |     कोहली को खली हार्दिक की कमी, बोले- अब विशेषज्ञ तेज गेंदबाज को देना पड़ेगा चांस     |     11 साल बाद भज्जी को हुआ पछतावा, बोले- नहीं मारना चाहिए था श्रीसंत को थप्पड़     |     स्टीपास और कोलिंस ऑस्ट्रेलियन ओपन में विजेता बनने से 2 कदम दूर     |     अफगान सैन्य अड्डे पर तालिबान हमले में 100 से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों की मौत     |     इंडोनेशिया में 6.0 तीव्रता का भूकंप के झटके     |     पाकिस्तान की कोयला खदान में धमाका, 3 की मौत     |